जोधपुर में एक महीने में 146 बच्चों की मौत

जोधपुर। राजस्थान के कोटा में ही नहीं जोधपुर में

स्वास्थ्य सेवाओं का हाल बेहाल है। बेहतर इलाज और सुविधाओं के अभाव में डॉ. संपूर्णानंद मेडिकल कॉलेज में महीनेभर में 102 नवजात समेत 146 बच्चों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा कोटा में 107 और बूंदी में 10 मासूम जिंदगी की जंग हार चुके हैं। जोधपुर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का गृह जिला है। मेडिकल कॉलेज के अधिकारी इन मौतों को सामान्य बता रहे हैं, वहीं मुख्यमंत्री गहलोत जोधपुर में बच्चों की मौत के सवाल को अनसुना कर गए। जोधपुर के अस्पताल की रिपोर्ट के अनुसार अकेले दिसंबर, 2019 में 146 बच्चों की मौत रिकॉर्ड हुई है। राजस्थान के जोधपुर संभाग के सबसे बड़े अस्पतालों में से एक एसएन मेडिकल कॉलेज के बाल रोग विभाग ने पिछले महीने हर दिन लगभग पांच बच्चों की मौत दर्ज की गई। कोटा में शिशुओं की मौत के बाद मेडिकल कॉलेज द्वारा तैयार रिपोर्ट में यह बात सामने आई है।

x

Check Also

थप्पड़ कांड: आर-पार के मूड में भाजपा

भोपाल (मंगल भारत)। पिछले दिनों सीएए के समर्थन में रैली को लेकर राजगढ़ में भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ राजगढ़ कलेक्टर द्वारा ...