नाथ सरकार नहीं कर रही डेढ़ लाख किसानों को धान का 1686 करोड़ रुपए का भुगतान

भोपाल (मंगल भारत)। सरकार को समर्थन मूल्य पर

धान बेचने वाले किसान इन दिनों गंभीर आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहे हैं, वजह है सरकार द्वारा उनसे खरीदी गई धान का 1686 करोड़ का भुगतान नहीं करना। किसानों से सरकार द्वारा एक माह के अंदर दस लाख टन धान समर्थन मूल्य पर खरीदी है। इसका किसानों को1790 करोड़ का भुगतान किया जाना था, लेकिन अब तक सरकार ने महज 94 करोड़ रुपए का ही भुगतान किया है। अथिक संकट के चलते प्रदेश के डेढ़ लाख किसानों को लगभग 1686 करोड़ रुपए सरकार से लेना है। इस राशि का भुगतान न होने से किसान खाद बीज सहित अन्य जरूरी सामान भी नहीं खरीद पा रहे है। बताया जाता है कि सिर्फ 20 हजार किसानों को ही धान खरीदी के बाद पूरा भुगतान किया गया है। इस संबंध में कई जिलों किसानों समितियों और खरीदी केंद्रों पर तत्काल राशि भुगतान के संबंध में आवेदन भी दिया है।
धान की ढुलाई भी नहीं हुई
खरीदी के 20 से 25 दिन बाद भी खरीदी केंद्रों से धान की ढुलाई नहीं हो पा रही है। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति नियम और विपणन संध ने धान परिवहन का ठेका जिन कंपनियों को दिया है वे समय पर परिवहन नहीं कर रही हैं। आधा दर्जन जिलों में परिवहन का टेंडर ही नहीं हो पाया है। अब तक खरीदी गई 10 लाख टन में से मात्र छह लाख टन धान का परिवहन हुआ है। इस धान के मंडी से गोदाम पहुंचने के बाद किसान को खरीदी पर्ची मिलेगी। इसके बाद किसानों के खाते में पैसा पहुंचेगा।

x

Check Also

थप्पड़ कांड: आर-पार के मूड में भाजपा

भोपाल (मंगल भारत)। पिछले दिनों सीएए के समर्थन में रैली को लेकर राजगढ़ में भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ राजगढ़ कलेक्टर द्वारा ...