एसडीएम और तहसीलदार सहित चार सस्पेंड पड़े पूरे मामला.

श्योपुर| मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देश पर प्रदेश भर में

चल रहे माफिया विरोधी अभियान के तहत शिवपुरी के कराहल में सिख समाज के लोगों पर हुई कार्रवाई के बाद प्रशासन ने इस मामले में बड़ी कार्रवाई की है|  जिसमें एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार और पटवारी को निलंबित कर दिया गया है।

दरअसल, पिछले दिनों श्योपुर जिले के कराहल में प्रशासन द्वारा शासकीय ज़मीन व अन्य ज़मीनों के क़ब्ज़े से मुक्त कराने की कार्रवाई को लेकर कुछ सिख समाज के लोगों ने भेदभावपूर्ण कार्रवाई का आरोप लगाया था। मामला संज्ञान में आते ही मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जांच के आदेश दिए थे। जिसके बाद इस मामले में कई टीम कार्रवाई की जद में आए परिवारों से मिली और अतिक्रमण में बताकर जो घर तोड़े गए हैं, उनका जायजा लिया। वहीं मंगलवार को इस मामले की हकीकत जानने के लिए राजस्व विभाग के प्रमुख सचिव मनीष रस्तोगी कराहल पहुंचे थे|

मुख्यमंत्री के निर्देश पर सलूजा सहित सिख समाज का प्रतिनिधिमंडल 6 जनवरी को श्योपुर की करहल तहसील पहुंचा था। इस प्रतिनिधिमंडल में प्रदेश के विभिन्न जिलों के गुरुद्वारा कमेटी के प्रमुख पदाधिकारी शामिल थे। उन्होंने अपनी रिपोर्ट सौंप दी थी। जिसके बाद सचिव रस्तोगी ने अपनी रिपोर्ट सीएम को सौंपी जिसके बाद यह कार्रवाई बुधवार की दोपहर को की गई।

x

Check Also

थप्पड़ कांड: आर-पार के मूड में भाजपा

भोपाल (मंगल भारत)। पिछले दिनों सीएए के समर्थन में रैली को लेकर राजगढ़ में भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ राजगढ़ कलेक्टर द्वारा ...