वृद्धाश्रम में जंजीरों में जकड़े 73 बुजुर्ग, आजाद

हैदराबाद। तेलंगाना पुलिस ने हैदराबाद स्थित एक

वृद्धाश्रम से 73 बुजुर्गों को रेस्क्यू किया। सूत्रों के मुताबिक, इन बुजुर्गों को चेन से बांधकर वहां रखा गया था। इनमें से अधिकतर मानसिक रोगों से पीड़ित हैं।
जानकारी के मुताबिक, हैदराबाद के बाहरी इलाके में स्थित नगराम गांव में एक वृद्धाश्रम के कमरे में बंद 73 लोगों को पुलिस ने बचाया। पुलिस के मुताबिक, वृद्धाश्रम में इलाज और देखभाल के नाम पर बुजुर्गों पर अत्याचार किया जाता था। पड़ोसियों ने इस मामले की जानकारी पुलिस को दी। ‘ममता ओल्ड एज होम’ नामक एनजीओ द्वारा इस अनधिकृत वृद्धाश्रम को चलाया जा रहा था। इन 73 बुजुर्गों को सिर्फ दो कमरों में रखा गया था। एक कमरे में 52 पुरुषों को और दूसरे कमरे में 21 महिलाओं को रखा गया था।
सूत्रों की मानें तो इन बुजुर्गों को कई बार पीटा भी जाता था। पुलिस के मुताबिक, वृद्धाश्रम प्रबंधन के खिलाफ माता-पिता और वरिष्ठ नागरिकों का भरण पोषण तथा कल्याण अधिनियम 2007 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। आश्रम में मौजूद सभी लोगों को अस्पताल भेजा गया है। उन्होंने कहा, ‘वृद्धाश्रम के प्रबंधन के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला भी दर्ज किया गया है। हमें शिकायत मिली थी कि मनोरोगी और मानसिक रूप से परेशान व्यक्तियों को घर के अंदर जंजीरों में कैद करके रखा गया है और उनके साथ अमानवीय व्यवहार किया जा रहा है। मामले की जांच चल रही है।’

x

Check Also

सिंधिया को राज्यसभा में भेज सकती है भाजपा!

भोपाल (मनीष द्विवेदी)। पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया जिस तरह से अपनी पार्टी के खिलाफ मुखर ...