श्रीवास्तव की सीएस बनने की संभावना समाप्त, ली पांच माह की छुट्टी

मौजूदा वन विभाग के अपर मुख्य सचिव एवं प्रदेश के

वरिष्ठ आईएएस अफसरों में शामिल एपी श्रीवास्तव की एक बार फिर मुख्य सचिव बनने की संभावना समाप्त हो गई है। शायद यही वजह है कि उन्होंने करीब पांच माह का लंबा अवकाश ले लिया है। खास बात यह है कि सरकार ने भी उनके अवकाश को स्वीकृति प्रदान कर दी है। वे 7 मार्च से 31 जुलाई तक अवकाश पर रहेंगे। खास बात यह है कि इसी दौरान मप्र के नए मुख्य सचिव का चयन होना है, वजह है मौजूदा मुख्य सचिव सुधिरंजन मोहंती का 31 मार्च 2020 को सेवानिवृत्त होना। कहा जा रहा है कि एपी श्रीवास्तव को इस बात के संकेत मिल गए कि उनका नाम नए मुख्य सचिव की दौड़ में शामिल नहीं हैै, लिहाजा उन्होंने जनवरी में ही पारिवारिक कारणों का हवाला देकर अवकाश का आवेदन दे दिया। उनके द्वारा यह कदम दूसरी बार उठाया गया है। पिछली बार जब बसंत प्रताप सिंह को मुख्य सचिव बनाया जा रहा था, तब वे वित्त विभाग में अपर मुख्य सचिव थे। उस दौरान भी श्रीवास्तव लंबे अवकाश पर चले गए थे। बसंत प्रताप सिंह के मुख्य सचिव बनने के बाद लौटे तो उनकी पोस्टिंग महानिदेशक प्रशासन अकादमी के पद पर की गई। कुछ माह बाद हालांकि उन्हें वन विभाग में अपर मुख्य सचिव बनाकर पदस्थ किया गया। वल्लभ भवन में उनकी वापसी के बाद कयास लगाए जाने लगे थे कि वे फिर मुख्य सचिव बन सकते हैं। लेकिन अब छुट्टी पर जाने से तस्वीर साफ हो गई है कि वे इस दौड़ में शामिल नहीं हैं। वर्ष 1984 बैच में श्रीवास्तव के अलावा अब जयदीप गोविंद और पीसी मीणा हैं। आलोक श्रीवास्तव ने वीआरएस ले लिया है। मीणा जून 2020 और गोविंद सितंबर 2020 में रिटायर होंगे। लिहाजा इनकी संभावना नहीं है। नया मुख्य सचिव 1985 बैच से होना तय माना जा रहा है।

x

Check Also

सिंधिया को राज्यसभा में भेज सकती है भाजपा!

भोपाल (मनीष द्विवेदी)। पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया जिस तरह से अपनी पार्टी के खिलाफ मुखर ...