मोदी का लालू राज पर निशाना, कहा-बूथ लूट लिए जाते थे

अररिया, मंगल भारत। बिहार में प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ने

मंगलवार को अररिया में एक चुनावी रैली को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि राज्य में पहले से ज्यादा मतदान हो रहा है। महागठबंधन पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार ने जंगलराज और डबल-डबल युवराजों को सिरे से नकार दिया है। उन्होंने कहा कि बिहार में अहंकार हार रहा है, परिश्रम जीत रहा है। आज बिहार में परिवारवाद हार रहा है, जनतंत्र फिर जीत रहा है। कांग्रेस पर हमला करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि पार्टी ने देश के झूठे सपने दिखाए। इसकी जनता ने उसे सजा दी। आज पार्टी के लोकसभा और राज्यसभा मिलाकर 100 सांसद भी नहीं हैं। प्रधानमंत्री ने कोरोना काल में मतदान कराने के लिए चुनाव आयोग को भी धन्यवाद दिया। अब वे सहरसा में दूसरी चुनावी सभा को संबोधित कर रहे हैं।
जंगलराज लाने वालों को भारत माता से दिक्कत
बिहार में जंगलराज लाने वालों के साथियों को भारत माता से दिक्कत है। कभी एक टोली कहती है कि भारत माता की जय के नारे मत लगाओ, कभी दूसरी टोली को भारत माता की जय से सिरदर्द होने लगता है। ये भारत माता के विरोधी अब एकजुट होकर बिहार के लोगों से वोट मांग रहे हैं। बिहार को जंगलराज बनाने वालों के साथी, उनके करीबी क्या चाहते हैं, आपको पता है? वो चाहते हैं, आप भारत माता की जय के नारे न लगाएं। छठी मैया को पूजने वाली इस धरती पर, जंगलराज के साथी चाहते हैं कि भारत माता की जय के नारे न लगें। वो चाहते हैं, आप जय श्री राम भी न बोलें। बिहार के चुनाव प्रचार में मां भारती का जयकारा करना इन लोगों को रास नहीं आ रहा। बिहार की अनेकों वीर माताएं, अपने लाल, अपनी लाडली को राष्ट्ररक्षा के लिए समर्पित करती हैं। बिहार के शूरवीर देश की सीमा, देश की संप्रभुता की रक्षा के लिए सर्वोच्च बलिदान देते हैं, देश की रक्षा करते हैं।
बिहार के शूरवीर देश की सीमा की रक्षा करते हैं
बिहार को जंगलराज बनाने वालों के साथी, उनके करीबी क्या चाहते हैं, आपको पता है? वो चाहते हैं, आप भारत माता की जय के नारे न लगाएं। छठी मैया को पूजने वाली इस धरती पर, जंगलराज के साथी चाहते हैं कि भारत माता की जय के नारे न लगें। बिहार की अनेकों वीर माताएं, अपने लाल, अपनी लाडली को राष्ट्ररक्षा के लिए समर्पित करती हैं। बिहार के शूरवीर देश की सीमा, देश की संप्रभुता की रक्षा के लिए सर्वोच्च बलिदान देते हैं, देश की रक्षा करते हैं। जब भी मैं बिहार आता हूं, मखाने की बात जरूर करता हूं। ऐसा नहीं है कि मेरे आने के बाद ही सबको ये पता चला कि यहां मखाना इतना ज्यादा होता है, इतना अच्छा होता है। ये बात पहले से भी पता थी लोगों को, लेकिन गर्व के साथ हम अपनी चीजों का बखान नहीं करेंगे तो कौन करेगा। हमारे बुनकरों की मेहनत का गौरव बढ़ गया है। पहले जितनी खादी बिकती थी, उससे कई गुना ज्यादा खादी आज बिक रही

x

Check Also

मंदसौर में इनामी बदमाश ने टीआई पर चलाई गोली, बाल-बाल बचे

मंदसौर, मंगल भारत। जिले के सीतामऊ थाना क्षेत्र के ग्राम बेलारी में फरार इनामी बदमाश अमजद लाला के आने की सूचना ...