जमानत पर रिहा मेवालाल को मंत्री बना घिरे नीतीश

पटना, मंगल भारत। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

ने असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती में धांधली के आरोपी डॉ. मेवालाल चौधरी को जदयू कोटे से मंत्री बनाया है। धांधली का आरोप झेल रहे मेवालाल को राज्य के शिक्षा विभाग की अहम जिम्मेदारी भी सौंपी गई हैं। वहीं, राजद ने इस मुद्दे पर नीतीश कुमार को घेर लिया है। पार्टी नेता तेजस्वी यादव ने मेवालाल को मंत्री बनाए जाने को भ्रष्टाचारियों को पुरस्कृत करने जैसा करार दिया। बुधवार को तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने असिस्टेंट प्रोफेसर की नियुक्ति और भवन निर्माण में भ्रष्टाचार के गंभीर मामलों में भादंवि की धारा 409, 420, 467, 468, 471 और 120बी के तहत आरोपी मेवालाल चौधरी को शिक्षा मंत्री बनाकर क्या भ्रष्टाचार करने का इनाम एवं लूटने की खुली छूट प्रदान की है?
इससे पहले, राजद ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर कहा, जिस भ्रष्टाचारी जदयू विधायक को सुशील मोदी खोज रहे थे, उसे नीतीश कुमार ने मंत्री बना दिया है। दूसरी तरफ, बिहार के नए शिक्षा मंत्री से पूछताछ के लिए पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ दास ने डीजीपी एसके सिंघल को पत्र लिखा है।

x

Check Also

मंदसौर में इनामी बदमाश ने टीआई पर चलाई गोली, बाल-बाल बचे

मंदसौर, मंगल भारत। जिले के सीतामऊ थाना क्षेत्र के ग्राम बेलारी में फरार इनामी बदमाश अमजद लाला के आने की सूचना ...