ओलों की वजह से मुरैना जिले के आठ गांवों में नुकसान

मुरैना। ओलावृष्टि से मुरैना जिले के 8 गांवों में फसलों को

नुकसान हुआ है। यह आठों गांव सबलगढ़ विकास खण्ड के हैं। नुकसान की प्राथमिक जानकारी आने के बाद कलेक्टर कलेक्टर अनुराग वर्मा ने इन सभी आठ गांवों में फसलों के नुकसान के सर्वे के आदेश दिए हैं और इस सर्वे की जिम्मेदारी सबलगढ़ एसडीएम अंकिता धाकरे को दी गई है। गौरतलब है कि, सोमवार-मंगलवार की रात पहले आंधी आई उसके बाद बारिश शुरू हुई। आंधी व बारिश के साथ सबलगढ़ क्षेत्र में ओलावृष्टि भी हुई। कई गांवों में तो इतने ओले बरसें के खेतों के कूढ़ ओलों से भर गए और सरसों व गेहूं की जो फसल अंकुरित हुई है उसको नुकसान हुआ है। ओलों से फसलों में नुकसान का मामला सबसे पहले नईदुनिया ने ही मंगलवार के अंक में उठाया था। इसके बाद मंगलवार देर शाम कलेक्टर अनुराग वर्मा ने सबलगढ़ ब्लॉक के उन आठ गांवों में सर्वे के आदेश दिए हैं जहां ओलावृष्टि ज्यादा हुई है। एएसएलआर सिरोमन सिंह कुशवाह ने बताया कि सबलगढ़ विकासखण्ड के जिन 8 गांवों में ओलावृष्टि हुई है उनमें जावरौल, जारोली, पचेर, बावड़ीपुरा, कैमाराकलां, टोंगा, रामपुरकलां, बामसोली गांव शामिल हैं।

x

Check Also

इंदौर में लगातार दूसरे दिन 586 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले

इंदौर, मंगल भारत। इंदौर में लगातार दूसरे दिन एक दिन सर्वाधिक कोरोना संक्रमितों के मिलने का रिकॉर्ड टूटा। रविवार को कोरोना ...